google.com, pub-3332830520306836, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

पृष्ठ तनाव (Surface Tension)

ससंजक बल (Cohesive Force)

  • एक ही पदार्थ के अणुओं के मध्य बीच लगने वाला आकर्षण बल ससंजक बल कहलाता है।

  • ठोसों में ससंजक बल का मान सर्वाधिक और गैसों में सबसे कम होता है।

 

आसंजक बल (Adhesive Force) 

  • दो भिन्न पदार्थों के अणुओं के बीच लगने वाला आकर्षण बल आसंजक बल कहलाता है। 

 

पृष्ठ तनाव (Surface Tension)

  • द्रव में स्वतंत्र पृष्ठ में कम से कम क्षेत्रफल प्राप्त करने की प्रवृत्ति होती है। इसके कारण उसका पृष्ठ सदैव तनाव की स्थिति में रहता है, इसे ही पृष्ठ तनाव कहते हैं। 

  • पृष्ठ तनाव का SI मात्रक न्यूटन / मीटर होता है। 

  • द्रव का ताप बढ़ाने पर पृष्ठ तनाव कम हो जाता है और क्रांतिक ताप पर यह शुन्य हो जाता है। 

  • पतली सुई पृष्ठ तनाव के कारन ही पानी पर तैराई जा सकती है। 

  • साबुन, डिटर्जेंट आदि जल का पृष्ठ तनाव कम कर देती है, इसी कारण ये मेल की गहराई में जा कर कपड़ों को साफ़ करते हैं। 

  • जल में साबुन घोलने पर जल का पृष्ठ तनाव कम हो जाता है, इसी कारण बड़े बड़े बुलबुले बनते हैं। 

  • जल में मिटटी का तेल छिड़कने से जल का पृष्ठ तनाव कम हो जाता है, इसी कारण मच्छर या दूसरे कीट के लार्वा जल में डूबकर मर जाते हैं। 

  • गर्म द्रव का पृष्ठ तनाव कम होता है, इसी कारण द्रव जीभ के ऊपर अच्छी तरह से फ़ैल जाता है और फलस्वरूप गर्म सूप स्वादिष्ट लगता है।