google.com, pub-3332830520306836, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भारत में हिन्द - यवन राज्य

  • भारत के विभिन्न राज्यों के मध्य राजनितिक एकता के अभाव ने विदेशी आक्रमणकारियों को आक्रमण करने और लूट खसोट करने को प्रेरित किया। 

  • भारत पर होने वाले आक्रमणों की दृष्टि से विदेशी आक्रमकारियों का क्रम इस प्रकार है:-

  • हिन्द यूनानी - शक - पल्ल्व - कुषाण 

  • सिकंदर महान के सेनापति सेल्यूकस निकेटर ने सर्वप्रथम पश्चिमी तथा मध्य एशिया में अपने आक्रमणों के द्वारा विशाल साम्राज्य बनाया। 

  • सेल्यूकस के विशाल साम्राज्य को उसके उत्तराधिकारी "एण्टियोकस प्रथम" ने बरकरार रखा। 

  • एण्टियोकस द्वितीय के शासकाल में भारत के अनेक प्रांत स्वतंत्र होते गए। 

  • उत्तर पश्चिम में अफगानिस्तान में बल्ख के आस पास का क्षेत्र "बैक्ट्रिया" कहलाया। 

  • डियोडोटस प्रथम के नेतृत्व में बैक्ट्रिया में विद्रोह हो गया। 

  • बैक्ट्रिया पर डियोडोटस प्रथम के बाद इन शासकों ने शासन किया। 

  • डियोडोटस द्वितीय, यूथीडेमस, डिमिट्रियस प्रथम, यूक्रेटाइड्स, एन्टी अलकीड्स, हार्मिक्स और हेलिडोकल्स। 

  • डेमिट्रियस ने 190 ई पू  में भारत पर सबसे पहले आक्रमण किया था। 

  • डेमिट्रियस "बैक्ट्रिया" का शासक था। 

  • डेमिट्रियस ने भारत के अफगानिस्तान, पंजाब और सिंध के बहुत से भाग पर अपना आधिपत्य  जमा लिया था। 

  • डेमिट्रियस ने अपनी राजधानी "शाकल (आधुनिक सियालकोट)" को बनाया था। 

  • इसे ही हिन्द - यूनानी या बैक्ट्रियाई यूनानी नाम दिया गया। 

  • डेमिट्रियस के वंशज बाद में हिन्द - यवन, हिन्द - यूनानी अथवा बैक्ट्रियन - यूनानी कहलाये। 

  • डेमिट्रियस प्रथम ने सर्वप्रथम भारत में यूनानी और खरोष्ठी लिपियों में उत्त्कीर्ण अभिलेख वाले सिक्के चलवाये। 

  • डेमिट्रियस प्रथम ने भारतीय राजाओं की तरह ही उपाधियाँ धारण की। 

  • यूक्रेटाइड्स ने तक्षिला को अपनी राजधानी बनाया। 

  • मिनान्डर ने 165 से 145 ई पू तक शासन किया। 

  • मिनान्डर हिन्द - यूनानी शासकों में सर्वाधिक विख्यात हुआ। 

  • उसने भारत में यवन सत्ता को स्थायित्व प्रदान किया। 

  • मिनान्डर ने शाकल (आधुनिक सियालकोट) को अपनी राजधानी बनाया था, जो तब शिक्षा का प्रमुख केंद्र था। 

  • मिनान्डर ने "नागसेन (नागार्जुन)" से बौद्ध धर्म की दीक्षा ग्रहण की थी। 

  • मिनान्डर द्वारा नागसेन से पूछे गए प्रश्न व् नागसे द्वारा दिए गए उत्तर को "मिलिन्दपन्हो" नामक पुस्तक में संकलित किया गया है। 

  • मिलिन्दपन्हो पाली भाषा में लिखा गया बौद्ध ग्रंथ है। 

  • मिलिन्दपन्हो में मिनान्डर को महान दार्शनिक बताया था। 

  • भारत में सोने के सिक्कों को सर्वप्रथम जारी करने वाले शासक हिन्द - यूनानी ही थे। 

  • हिन्द यूनानी शासकों ने भारत के पश्चिमोत्तर प्रांत में "हेलेनिस्टिक आर्ट" नामक यूनान की प्राचीन कला को विकसित किया। 

  • "हेलेनिस्टिक आर्ट" का सबसे श्रेष्ट उदाहरण भारत में विकसित "गांधार कला" है । 

  • यूनानी आक्रमण व् हिन्द - यूनानी शासकों के भारत में शासन ने भारत में विदेशी आयात - निर्यात के व्यापार को बढ़ावा दिया।  

  • मिनान्डर के बाद के हिन्द - यूनानी शासकों का भारत की शासन व्यवस्था पर प्रभाव कम होता गया जिससे भारत में शकों को अपना प्रभाव बढ़ने व् जमाने का मौका मिला।