google.com, pub-3332830520306836, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

रसायन विज्ञान का परिचय

विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत पदार्थों के गुणं, संघटन, संरचना तथा उनमें होने वाले परिवर्तनों का अध्ययन किया जाता है, रसायन विज्ञान कहलाता है। 

  • Chemistry शब्द की उत्पत्ति मिश्र के प्राचीन शब्द कीमिया (Chemia) से हुई है, जिसका अर्थ होता है काला रंग।

  • मिश्र के लोग काली मिटटी को केमि (Chemi) कहते थे।

  • अतः प्रारम्भ में रसायन विज्ञान को केमिकेटिंग (Chemicating) कहा जाता था। 

 

लेवोजियर (Lavoisier)  को रसायन विज्ञान का जनक कहा जाता है।

पदार्थ और उसकी प्रकृति (Substance and It's nature)

  • द्रव के विभिन्न प्रकार के पदार्थ (Substance) कहते हैं।

  • द्रव्य वह सामग्री है, जिसमें भार हो, जो स्थान ग्रहण करे, जो दावाब डाल सके, अवरोध उत्पन्न कर सके, जिसमें जड़ता का गुण हो, जिसकी अवस्था में ऊर्जा द्वारा परिवर्तन लाया जा सके तथा जिसके अस्तित्व का अनुभव हम छूकर या ज्ञानेन्द्रियों द्वारा कर सके।

  • पदार्थ की तीन भौतिक अवस्थाएं  होती हैं - ठोस, द्रव और गैस होती है।

  • पदार्थ की चौथी अवस्था प्लाज़्मा तथा पांचवी अवस्था बोस आइंस्टाइन कन्डेंसेट है।

 

ठोस (Solid):-

  • जिसका आकार और आयतन दोनों निश्चित होता है ठोस कहलाती हैं। 

  • जैसे - पत्थर, ईंट, लोहा आदि।

 

द्रव (Liquid):-

  • जिसका आकार अनिश्चित और आयतन निश्चित होता है द्रव कहलाती है।

  • जैसे - पानी, दूध, डीजल आदि।

 

गैस (Gas):-

  • जिसका आकार और आयतन दोनों ही अनिश्चित होता है। 

  • जैसे - कार्बन डाई ऑक्साइड, ऑक्सीजन आदि।

  • गैसों का पृष्ट नहीं होता है, इसमें विसरण बहुत अधिक होता है तथा इसे आसानी से सम्पीड़ित (Compress) किया जा सकता है।

 

  • ताप और दाब में परिवर्तन के द्वारा पदार्थ की अवस्थाओं को परिवर्तित किया जा सकता है।  अपवाद - लकड़ी

  • जल एक ऐसा पदार्थ है जो एक ही साथ तीनों अवस्थाओं में पाया जाता है।

 

पदार्थ तीन प्रकार के होते हैं - तत्व, यौगिक और मिश्रण

 

तत्व (Element):-

  • वह शुद्ध पदार्थ जिसका किसी भी विधि द्वारा भिन्न गुण वाले अन्य सरल रूप में विभाजन नहीं हो सकता है।

  • तत्व दो प्रकार के होते हैं - धातु और अधातु

 

धातु (Metal):-

  • जो इलेक्ट्रान का त्याग कर धना आयन बनाता है। 

  • जैसे - लोहा, सोना, चाँदी आदि।

 

अधातु (Non - Metal):-

  • जो इलेक्ट्रान को ग्रहण कर ऋण आयन बनता है। 

  • जैसे - कार्बन, गंधक, हाइड्रोजन आदि।

 

उपधातु (Sub - Metal):-

  • जिसमें धातु और अधातु दोनों के गुण पाए जाते हैं।

  • जैसे - आर्सेनिक, ऐंटिमनी आदि।

 

  • द्रव रूप में पाया जाने वाला तत्व - पारा (धातु), ब्रोमीन (अधातु) .

  • गैस रूप में पाए जाने वाले तत्व - ऑक्सीजन, हाइड्रोजन, नाइट्रोजन, क्लोरीन, हीलियम, नियॉन, आर्गन, ज़ेनॉन, क्रिप्टॉन एवं रेयॉन

  • अंतिम छह गैसों को निष्क्रिय गैस कहा जाता है।

 

यौगिक (Compound):-

  • दो या दो से अधिक तत्वों के निश्चित अनुपात में मिलाने से बना पदार्थ यौगिक कहलाता है।

  • जैसे - जल, नमक, चीनी आदि।

 

मिश्रण (Mixture):-

  • दो या दो से अधिक तत्वों के किसी भी अनुपात में मिलने से बना पदार्थ मिश्रण कहलाता है।

  • जैसे - वायु आदि

 

मिश्रण दो प्रकार के होते हैं - समांग और विषमांग

 

समांग मिश्रण (Homogenous Mixture):-

  • वैसा मिश्रण जिसके सभी भागों में उसके अवयवों का अनुपात एक सा रहता है। 

  • जैसे - चीनी या नामक का जलीय विलयन आदि।

 

विषमांग मिश्रण (Heterogeneous Mixture):-

  • वैसा मिश्रण जिसके सभी भागों में उसके अवयवों का अनुपात एक सा नहीं रहता है।

  • जैसे - बारूद, कुंहासा, तेल आदि।