google.com, pub-3332830520306836, DIRECT, f08c47fec0942fa0

प्रजनन तंत्र (Reproductive System)

अपने ही समान नए जीवों को उत्पन्न करने की क्रिया प्रजनन तंत्र कहलाती है। 

 

प्रजनन दो प्रकार से होता है :- 

1. अलैंगिक जनन (Asexual): 

  • यह प्रजनन बिना किसी नर या मादा युग्मक की सहायता से सम्पन्न होती है। 

  • इस  प्रकार का प्रजनन अमीबा, हाइड्रा, यीस्ट इत्यादि में होता है। 

2. लैंगिक जनन (Sexual)

  • यह प्रजनन नर युग्मक (शुक्राणु) और मादा युग्मक (अण्डाणु) की सहायता से सम्पन्न होती है। 

  • प्रजनन अंगों के आधार पर जीव निम्न प्रकार के होते हैं:- 

 

i. द्विलिंगी (Bisexual) या उभयलिंगी (Hermaphrodite) या उभयलिंगाश्रयी (Monoeciou)

  • जीव शरीर में नर या मादा दोनों प्रजनन अंग उपस्थित रहते हैं। 

  • जैसे - केंचुआ, फीताकृमि। 

 

ii. एकलिंगी (Unisexual) या एकलिंगाश्रयी (Dioecious)

  • जीव - जब नर या मादा प्रजनन तंत्र अलग अलग शरीर में उपस्थित हो। 

  • जैसे - सभी स्तनधारी, पक्षी, सरीसृप इत्यादि। 

  • जिन उभयलिंगियों में शुक्राणुओं की उत्पत्ति एवं परिपक्वन अण्डाणु से पहले होता है, उन्हें पुरपुरवी जीव कहते हैं। 

  • जो जीव अण्डा देते हैं उन्हें अंड प्रजनक (Oviparous) तथा जो सीधे शिशुओं को जन्म देते हैं उन्हें सजीव प्रजनक कहते हैं। 

  • जिन उभयलिंगिओं में अंडाणुओं की उत्पत्ति एवं परपक्वन शुक्राणओं से पहले होता है, उन्हें स्त्री पूर्वी कहते हैं। 

  • जंतुओं का सबसे प्रमुख नर प्रजनन अंग वृषण (Testis) तथा प्रमुख मादा प्रजनन अंग अण्डाशय (Ovary) होता है। 

  • जब शुक्राणु और अंडाणु शरीर से बाहर मिलते हैं तब उन्हें बाह्य निषेचन कहते हैं (External Fertilization) तथा जब शरीर के अंदर मिलते हैं तो उन्हें अन्तः निषेचन (Internal Fertilization) कहते हैं। 

  • परिवार नियोजन हेतु नर के ऑपरेशन की विधि वासेक्टमी (Vasectomy) तथा मादा के ऑपरेशन की विधि टूबेक्टॉमी (Tubectomy) कहते हैं। 

  • एक स्वस्थ युवा पुरुष एक बार में 4 से 5 मिली. शुक्र (Semen) स्खलित करता है, जिसमें 20 करोड़ से 60 करोड़ शुक्राणु मौजूद होते हैं। 

Design Paper
Contact Us

Contact Information

…  6209908627  

  • Whats app
  • LinkedIn
  • Facebook
  • Twitter

                                              Thanks for your interest in Nutangyankosh.

                      For more information, feel free to get in touch and I will get back to you soon!

©2020 by nutangyankosh. Proudly created with Wix.com